सत्यमेव .....

हास्य व्यंग्य एक्सप्रेस

29 Posts

624 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 799 postid : 75

बेवड़े पायलेटों से खुदा बचाये । (व्यंग्य/कार्टून)

Posted On 19 Apr, 2010 मस्ती मालगाड़ी में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

पिछले साल 42 पायलेटों को शराब पीकर विमान उड़ाते पकड़ा गया था । विमानन कंपनियां का इस मामले में नजरिया सुनकर आपके होश फाख्ता हो जायेंगे । विमानन कंपनियां ‘दुर्घटना से देर भली’ के सिद्धांत से उलटा चलती हैं । उनका प्रिय सिद्धांत है ‘देर से दुर्घटना भली’ इसलिये वो दूसरे पायलेट को बुलाने की जगह उस टल्ली पायलेट को ही विमान सौंप देती हैं ताकि फ्लाइट डिले या कैंसिल न हो जाये ।

विमानन कंपनियां भगवान भरोसे जहाज उड़वा रही हैं । उनका मानना है कि जीवन और मृत्यु तो ऊपर वाले के हाथ है । जिसकी जिस समय मौत लिखी है उसी समय होगी । उससे पहले घबरा कर धंधा खराब करने से परलोक का तो पता नहीं, हां इहलोक जुरूर बिगड़ जायेगा ।

<=हिक्क! और पिलाओ भाई । ऊपर देखो । जब वह दारू पीकर जहाज उड़ा सकता है तो मैं क्या 17 पैग पीकर सायकिल से अपने घर भी नहीं जा सकता । हिक्क!

| NEXT



Tags:                                                   

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (4 votes, average: 4.25 out of 5)
Loading ... Loading ...

3 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

sumityadav के द्वारा
June 9, 2010

इन्हीं बेवड़ों ने.. इन्हीं बेवड़ों ने…. इन्हीं बेवड़ों ने क्रेश कर दीना प्लेनवा।

shipra के द्वारा
June 5, 2010

kitane zanwar paal rakhe hain apne apni gali mein

manoj के द्वारा
April 19, 2010

क्या बात है, इतना तीखा व्यंग्य . लगता है आप इन बेवडोसे कुछ ज्यादा ही नाराज हैं,


topic of the week



latest from jagran